क्या अब भारतीय सिनेमा में चलेगा विलेन का सिक्का? KGF 2 के बाद बॉलीवुड की भी बढ़ गई चिंता

Must Read

पुलकित कपूर
पुलकित कपूर
I am Pulkit Kapoor The best strategy maker for Herald Hindi

हाल ही में यश की फिल्म केजीएफ़ 2 रिलीज़ हो चुकी है। फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर झंडे गाड़ दिए हैं। इस फिल्म ने महज 4 दिनों के अंदर ही कई रिकॉर्ड भी तोड़ दिए हैं। चार दिनों में ही ये फिल्म 500 करोड़ से भी ज्यादा कमाई कर चुकी है। हिन्दी वर्जन में भी इस फिल्म ने तहलका मचा दिया है। बताया जा रहा है कि हिन्दी वर्जन में भी ये फिल्म अब तक 200 करोड़ तक की कमाई कर चुकी है।

वहीं अब भी फ़िल्म का खुमार लोगों से सिर से उतरने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं अब साउथ की फिल्मों की सफलता को देखते हुए बॉलीवुड को भी अपनी चिंता सताने लगी है। वहीं अब कहा जा रहा है कि भारतीय सिनेमा में अब विलेन ही हीरो बन जाने वाला है। अब यहाँ सिर्फ विलेन का ही सिक्का चलेगा।

हम जानते हैं कि केजीएफ़ 2 इस समय खूब सुर्खियों में हजाई। इस फिल्म को दर्शक भी खूब पसंद कर रहे हैं। यश इस फिल्म में लीड रोल में नज़र आ रहे हैं। लेकिन उनका किरदार भी विलेन जैसा ही दिखाया गया है। फिल्म में ये नहीं कहा जा सकता कि यश ने फिल्म में हीरो का किरदार निभाया है। उनका किरदार भी विलेन से ही मिल रहा है।

वहीं इस किरदार को दर्शक भी खूब पसंद कर रहे है। ये ठीक बिल्कुल वैसा ही है जैसा पुष्पा में देखने को मिला था। पुष्पा में भी अल्लू अर्जुन बेशक लीड रोल में थे लेकिन उनका किरदार विलेन से कम नहीं था। वे गलत काम करने के बाद भी ऊपर उठ रहा है। ऐसे में ये माना जा रहा है कि अब भारतीय सिनेमा में खलनायकों का ही सिक्का चलने वाला है जिन्हें दर्शक भी काफी पसंद करने वाले हैं।

वहीं इसी बीच बॉलीवुड की चिंता भी बढ़ गई है। दरअसल हाल ही में बॉलीवुड की कई फिल्में रिलीज़ हुई हैं लेकिन साउथ फिल्मों की आंधी में किनारे होकर रह गई है। कई बॉलीवुड की फिल्मों की तो रिलीज़िंग डेट भी अब वापस ले ली गई है। ऐसे में बॉलीवुड भी अब अपनी फिल्मों को सामने लाने से डर रहा है। हिन्दी भाषी भी साउथ की फिल्मों के हिन्दी वर्जन को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। वहीं अब देखने वाली बात ये भी है कि केजीएफ़ 2 अब और कितने रिकॉर्ड तोड़ने वाली है।

 

- Advertisement -spot_img

Latest News

बच्चों के लिए वरदान है बिना कैश काउंटर वाला अस्पताल, मुफ्त होता है बच्चों के दिल का इलाज

Delhi: हम जानते हैं कि आज भी ऐसे कई बच्चे हैं जो दिल की बीमारी के साथ ही पैदा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े