दक्षिण हरियाणा के शहर में लगा अनोखा एनर्जी पावर प्लांट, वहां बनेगी पराली से बिजली

Must Read

हिमेश ठाकुर
हिमेश ठाकुर
My Profession is a god for me. I Love to Write entertainment news.

रेवाड़ी:दक्षिण हरियाणा के प्रमुख शहर रेवाड़ी जिले के गांव खुर्शीद नगर में देश का पहले ग्रीन एनर्जी बिजली प्लांट की स्थापना की गई है। करीब पांच एकड़ जमीन पर लगाए गए इस प्लांट से दो मैगावाट बिजली का उत्पादन होने की संभावना है। हैरत की बात तो यह है कि इस प्लांट में पराली से बिजली तैयार की जाएगी, जिसे बिसोहा स्थित 33 केवी सब स्टेशन में सप्लाई किया जाएगा। इससे आसपास के इलाकों में सप्लाई कर लोगों के घर रोशन किए जाएंगे। यह अपने आप में एक अनोखा प्रोजेक्ट है, जहां प्रदूषित रहित बिजली का उत्पादन किया जाएगा।

600 क्विंटल पराली से बनेगी बिजली

एमएंडपी बिंब भिवानी के कार्यकारी अभियंता मुकेश कुमार ने बताया कि यह प्लांट पूरी तरह से प्रदूषण मुक्त होगा, जिसे पंचकूला रिन्यूअल एनर्जी विकास एजेंसी से पंजीकृत करवाया गया है। इस प्लांट में 400 किलोवाट क्षमता के पांच इंजन होंगे,जिनसे बिना प्रदूषण के 24 घंटे में 600 क्विंटल पराली से 48 हजार यूनिट बिजली पैदा की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस प्लांट को लेकर भविष्य में कई और योजना भी है, जोकि अपने आप में अदभुत है। भविष्य में इस प्लांट को सोलर पैनल से जोडऩे की योजना है, ताकि उससे निकलने वाली गर्मी से कोल्ड स्टोरेज चलाए जा सकें। उनके अनुसार इस प्लांट से सैंकडों लोगों को रोजगार से जोड़ा जाएगा।

बॉयोगैस तकनीक का इस्तेमाल होगा

एसडीओ दीपक कुमार ने इस प्लांट को लेकर कई महत्वपूर्ण बातें शेयर की। उन्होंने बताया कि इस प्लांट में बॉयलर की बजाए बायोमैस गैस तकनीक का प्रयोग किया जाएगा, जिससे प्रदूषण उत्पन्न होने की कोई संभावना नहीं रहेगी। पराली से पांचों इंजन चलाए जाएंगे और इससे उत्पन्न होने वाली गैस से बिजली का उत्पादन होगा। इस प्लांट से बिसोहा सब स्टेशन को प्रति घंटे दो मैगावाट बिजली की सप्लाई की जाएगी। जिसके एवज में सरकार नियम अनुसार बिजली का भुगतान करेगी।

इस शख्स ने लगाया प्लांट

बता दें कि गांव खुर्शीद नगर के रहने वाले राजपाल पुत्र टोडाराम ने ही इस प्लांट की स्थापना की है। उन्होंने बताया कि केंद्र व राज्य सरकार के सहयोग से मुमताजपुर सडक़ मार्ग पर स्थित अपनी पांच एकड़ जमीन पर यह प्लांट लगाया गया है। इस प्लांट में प्रदूषण के बिना ही बिजली का उत्पादन किया जाएगा। इस प्लांट से निकलने वाली बिजली से हजारों घर रोशन हो सकेंगे, जिसकी उन्हें बेहद खुशी है। इससे आसपास के इलाकों को बिजली की सप्लाई होगी और यह अपने आप में एक नया प्रयोग है। जिससे प्रोत्साहित होकर बाकि लोग भी प्रदूषण रहित बिजली का उत्पादन कर सकते हैं।

- Advertisement -spot_img

Latest News

हरियाणा में ट्रैफिक नियम हुए सख्त, नियम तोड़ने पर हमेशा के लिए रद्द होगा लाइसेंस और परमिट

Delhi: हरियाणा में यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराने पर ज़ोर दिया जा रहा है। इसके लिए हरियाणा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े