महेश बाबू के बयान पर सुनील शेट्टी ने दिया करारा जवाब, कहा “बाप हमेशा बाप ही रहेगा”

Must Read

पुलकित कपूर
पुलकित कपूर
I am Pulkit Kapoor The best strategy maker for Herald Hindi

पिछले कुछ समय से साउथ की फिल्में खूब सुर्खियां बटोर रही हैं। हाल ही में कई साउथ की फिल्में रिलीज़ हुई हैं जिन्हें दर्शक भी खूब पसंद कर रहे हैं। वहीं ऐसे में अब साउथ फिल्म इंडस्ट्री वर्सेज़ बॉलीवुड भी देखने को मिल रहा है। जब से साउथ की फिल्में हिट हो रही हैं तभी से साउथ सिनेमा के कई स्टार्स बॉलीवुड को लेकर बयानबाज़ी कर रहे हैं। वहीं हाल ही में महेश बाबू का बयान भी सोशल मीडिया पर चर्चा और विवाद का विषय बन गया है।

बता दें कि महेश बाबू साउथ फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता और उन्होंने कहा है कि बॉलीवुड उन्हें अफोर्ड नहीं कर सकता। ऐसे में अब बॉलीवुड के कई स्टार्स भी इस पर अपन्बि प्रतिक्रिया दे रहे हैं। अब तक इस बयान पर सोनू निगम और सोनू सूद भी अपनी राय दे चुके हैं। वहीं अब महेश बाबू को सुनील शेट्टी से भी करारा जवाब मिला है।

दरअसल हाल ही में साउथ फिल्म के सुपरस्टार महेश बाबू ने बॉलीवुड को लेकर बड़ा बयान दिया है। महेश बाबू ने कहा है कि वे बॉलीवुड में काम नहीं करना चाहते क्यूंकि बॉलीवुड उन्हें अफोर्ड नहीं कर सकता। वहीं उन्होंने कहा है कि वे हिंदी फिल्मों को कर अपने समय बर्बाद नहीं करना चाहते हैं। ऐसे में उनका ये बयान चर्चा का विषय बन गया है। बॉलीवुड के कई स्टार्स ऐसे बयान से काफी भड़क गए हैं।

वहीं अब कई स्टार्स के बाद सुनील शेट्टी ने भी इस पर अपनी राय दी है। सुनील ने कहा है कि “बाप हमेशा बाप ही होता है, मुझे लगता है कि बॉलीवुड वर्सेज़ साउथ इंडस्ट्री को सोशल मीडिया पर क्रिएट किया गया है” वहीं सुनील ने कहा है कि ओटीटी प्लेटफॉर्म से सभी को कुछ सीखना चाहिए जहां भाषा नहीं बल्कि कंटेन्ट मैटर करता है।

सुनील के मुताबिक वे भी साउथ से आते हैं लेकिन उनकी कर्मभूमि मुंबई है इसलिए वे खुद को मुंबईकर कहलवाना पसंद करते हैं। वहीं सुनील ने कहा है कि समस्या ये है कि सब दर्शकों को भूल चुके हैं। वहीं इसके आगे सुनील ने कहा है कि सिनेमा हो या ओटीटी बाप, बाप ही रहेगा और फैमिली मेंबर्स फैमिली मेंबर्स ही रहेंगे और बॉलीवुड हमेशा बॉलीवुड रहेगा। वहीं अब सुनील शेट्टी का ये बयान भी सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गया है।

- Advertisement -spot_img

Latest News

बच्चों के लिए वरदान है बिना कैश काउंटर वाला अस्पताल, मुफ्त होता है बच्चों के दिल का इलाज

Delhi: हम जानते हैं कि आज भी ऐसे कई बच्चे हैं जो दिल की बीमारी के साथ ही पैदा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े