खेल प्रोफेसर ने बदली गरीब बच्चों की जिंदगी, इन्हीं की कहानी पर आधारित है अमिताभ की फिल्म “झुंड”

Must Read

प्रशांत गर्ग
प्रशांत गर्गhttps://heraldhindi.com/
I am Prashant Garg an aspiring reporter and an enthusiastic Content Writer for Herald Hindi website I'm passionate about exploring entertainment news and manifesting its best parts through Article Writing.

दरअसल आज 4 मार्च 2022 को अमिताभ की फिल्म झुंड रिलीज़ हो चुकी है। ये फिल्म स्पोर्ट्स पर आधारित है जिसमें अमिताभ बच्चन लीड रोल में हैं। इस फिल्म में अमिताभ ने खेल प्रोफेसर विजय बरसे का किरदार निभाया है। ये फिल्म विजय बरसे की जिंदगी पर ही आधारित है। वहीं दर्शक भी इस फिल्म का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे थे।

लेकिन अब ये फिल्म रिलीज़ हो चुकी है जिसे दर्शकों का खूब प्यार मिल रहा है। इस फिल्म को नागराज पोपटराव मंजुले ने ही बनाया है। वहीं फिल्म की कहानी भी काफी अच्छी है जिसे दर्शक पसंद कर रहे हैं।

गरीबों के लिए किया जीवन समर्पित

बता दें कि हाल ही में रिलीज़ हुई फिल्म रिटायर खेल प्रोफेसर विजय बरसे की कहानी है जिसमें वे गरीबों के प्रति अपना सारा जीवन समर्पित कर देते हैं। विजय बरसे महाराष्ट्र के नागपुर के रहने वाले हैं। विजय चर्चाओं में तब आए थे जब वे सत्यमेव जयते शो में आई थे और अपने जीवन की कहानी को बताया था। दरअसल 2000 में विजय नागपुर के कॉलेज में ही खेल प्रोफेसर थे।

उसी दौरान विजय की नज़र कुछ ऐसे बच्चों पर पड़ी जो बारिश में बाल्टी से फुटबॉल खेल रहे थे। इसके बाद ही विजय ने इस बच्चों के भविष्य को उज्जवल बनाने का प्रण ले लिया था। उसके बाद उन्होंने कई बच्चों को फुटबॉल खेलने के लिए भी बुलाया जो गंदे कपड़ों में आए थे। विजय ने कई टूर्नामेंट भी आयोजित किए जिसमें सिर्फ झुग्गी वाले और गरीब बच्चे ही भाग ले सकते थे।

लोगों ने की इस काम की सराहना

2001 में विजय ने स्लम सॉकर को शुरू किया था जिसमें 128 टीमें हिस्सा रही थी। धीरे धीरे अब विजय को स्लम सॉकर के नाम से ही पहचान मिलने लगी और उनके काम की भी जमकर तारीफ होने लगी थी। आज कई बच्चे विजय बरसे से ही ट्रेनिंग लेना चाहते हैं। वहीं उन्होंने कई बच्चों को ट्रेनिंग भी दी है और उन बच्चों ने भी खेल में बेहतरीन प्रदर्शन किया है। एक समय ऐसा भी था जब इस काम में विजय का किसी ने साथ तक नहीं दिया।

लेकिन आज वे अपनी पहचान इस कदर बना चुके हैं कि उनके जीवन पर फिल्म भी बनाई जा चुकी है। 2007 में विजय ने नेल्सन मंडेला से भी मुलाक़ात की जहां नेल्सन ने भी उनकी खूब तारीफ की।

- Advertisement -spot_img

Latest News

हरियाणा में ट्रैफिक नियम हुए सख्त, नियम तोड़ने पर हमेशा के लिए रद्द होगा लाइसेंस और परमिट

Delhi: हरियाणा में यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराने पर ज़ोर दिया जा रहा है। इसके लिए हरियाणा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े