देश में बदला डीएल बनवाने का नियम, एक सर्टिफिकेट दो और ड्राइविंग लाइसेंस लो

Must Read

हिमेश ठाकुर
हिमेश ठाकुर
My Profession is a god for me. I Love to Write entertainment news.

नई दिल्ली : केंद्र सरकार की ओर से समय समय कई नियमों में देश के नागरिकों की सुविधा के लिए कई बदलाव भी किए जाते हैं। वहीं अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए भी केंद्र सरकार ने नियमों में कई बदलाव किए हैं जिससे ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना आसान हो जाएगा और लोगों को लंबी कतारों में नहीं लगना पड़ेगा। अब इन नियमों में बदलाव कर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की प्रक्रिया को भी आसान कर दिया गया है।

लाइसेंस बनवाने के लिए नहीं काटने होंगे चक्कर जानकारी के अनुसार अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने वाले को आरटीओ कार्यालय के चक्कर नहीं काटने होंगे और न ही आरटीओ में जाकर किसी भी प्रकार का टेस्ट देना होगा। अब ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए केंद्र सरकार ने अलग प्रक्रिया को शुरू किया है जिसे लागू कर दिया गया है। आइए जानते हैं इन नियमों के बारे में

अब आरटीओ जाकर नहीं देना होगा टेस्ट बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार की ओर से ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नियमों में कई बदलाव किए गए हैं। जिसके मुताबिक अब लाइसेंस बनवाने वाले को न तो आरटीओ के चक्कर लगाने होंगे और न ही आरटीओ में जाकर टेस्ट देना होगा। मंत्रालय द्वारा इस पर पूरी जानकारी दी गई है जिसमें बताया गया है कि किसी भी प्रतिष्ठित ड्राइविंग प्रशिक्षण संस्थान द्वारा लाइसेंस के लिए पंजीकरण की अनुमति दी जाने वाली है।

ड्राइविंग स्कूल से जारी होगा सर्टिफिकेट दैनिक जागरण की खबर के अनुसार इसके लिए आवेदकों को स्कूल से ही एक प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा लेकिन ये प्रमाण पत्र प्रशिक्षण पूरा करने और परीक्षा पास करने के बाद दिया जाने वाला है। इस प्रमाण पत्र के आधार पर ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया जा सकता है। वहीं संस्थानों में प्रशिक्षण के लिए भी पाठ्यक्रम तैयार किया गया है।

जानिए नए नियम से जुड़ी बातें जानकारी के अनुसार दोपहिया, तिपहिया और हल्के मोटर वाहनों के प्रशिक्षण के लिए एक एकड़ और भारी वाहनों के लिए दो एकड़ जमीन होना जरूरी है। वहीं ट्रेनर्स कम से कम 12वीं पढ़े होने चाहिए और कम से कम पाँच साल का अनुभव और यातायात नियमों की जानकारी होना जरूरी है। इसमें लोगों को कम से कम 21 घंटे ड्राइविंग से जुड़ी बारीकियों को सीखना अनिवार्य है वहीं थ्योर्टिकल पार्ट 8 घंटे तक चलेगा जिसमें ट्रैफिक नियमों से जुड़े एथिक्स सिखाए जाएंगे।

- Advertisement -spot_img

Latest News

हरियाणा में ट्रैफिक नियम हुए सख्त, नियम तोड़ने पर हमेशा के लिए रद्द होगा लाइसेंस और परमिट

Delhi: हरियाणा में यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराने पर ज़ोर दिया जा रहा है। इसके लिए हरियाणा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े