शिवाजी महाराज के बेटे पर बनने वाली है फिल्म, महज 31 साल में इस योद्धा ने जीते थे 210 युद्ध

Must Read

हिमेश ठाकुर
हिमेश ठाकुर
My Profession is a god for me. I Love to Write entertainment news.

बता दें कि भारत में ऐसे कई योद्धा हैं जिंका नाम भारत के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में दर्ज है। भारत में कई महान योद्धाओं ने जन्म लिया और आज भी उनके शौर्य की गाथा पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। वहीं अब भारत के महान योद्धाओं के बारे में हिंदी सिनेमा भी बताने का प्रयास कर रहा है। हिंदी सिनेमा में कई फिल्में भी भारत के महान योद्धाओं के ऊपर ही बनाई जा रही है।

अब हाल ही में भारत के एक और महान योद्धा के ऊपर एक और फिल्म बनाई जा रही है। बता दें कि ये फिल्म शिवाजी महाराज के बेटे संभाजी पर बनाई जा रही है। बता दें कि संभाजी शिवाजी महाराज के बाद मराठा साम्राज्य के दूसरे छत्रपति थे। वहीं अब उनके जीवनकाल पर फिल्म भी बनाई जा रही है। आइए जानते हैं खबर को विस्तार से।

बता दें कि अब एक और फिल्म सामने आ रही है जिसमें संभाजी के बारे में ही बताया जाने वाला है। इस फिल्म का नाम छावा द ग्रेट वरियर है। तरण आदर्श ने फिल्म का पोस्टर भी अब रिलीज़ कर दिया है। हर तरफ इस फिल्म की चर्चा भी हो रही है। वहीं का निर्देशन राहुल जनार्दन जाधव द्वारा किया जा रहा है। वहीं फिल्म में संभाजी से जुड़ी ही कई जानकारी दी जाएंगी। इस फिल्म में संभाजी के जीवनकाल और उनके पराक्रम के बारे में बताया जाने वाला है।

बता दें कि महज 31 साल की उम्र संभाजी ने कई युद्ध लड़े थे और अपनी एक अलग पहचान भी बनाई थी। इतनी उम्र में संभाजी ने करीब 210 युद्ध लड़े थे। वहीं उन्हें युद्ध में कई भी हार का सामना नहीं करना पड़ा। वहीं माना जाता है कि संभाजी ने अपने पराक्रम से औरंगजेब को भी करारा जवाब दिया था। औरंगजेब के मंसूबों को संभाजी ने कभी भी कामयाब नहीं होने दिया था।

वहीं उन्हें हत्या भी बेहद क्रूर तरीके से हुई थी। उन्हें पहले इस्लाम अपनाने के लिए मजबूर किया गया वहीं उनके एक एक अंग को भी काट दिया गया था और उनकी जान चली गई थी। 11 मार्च के दिन संभाजी शहीद हो गए थे। वहीं उनके शव के टुकड़े भी फेंक दिए गए थे जिसे मराठा जन ने इकट्ठा किया और उनका अंतिम संस्कार किया।

- Advertisement -spot_img

Latest News

बच्चों के लिए वरदान है बिना कैश काउंटर वाला अस्पताल, मुफ्त होता है बच्चों के दिल का इलाज

Delhi: हम जानते हैं कि आज भी ऐसे कई बच्चे हैं जो दिल की बीमारी के साथ ही पैदा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े