दिल्ली और हरियाणा के बीच जल्द चलेगी रैपिड मेट्रो रेल, मिनटों में तय होगा लंबा सफर

Must Read

डी पांडेय
डी पांडेयhttp://Heraldhindi.com
I keep my eyes wide open and observe everything minute. I strive for development and I live for Content Writting.

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली से हरियाणा की कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए सरकार ने अपने स्तर पर प्रयास आरंभ कर दिए हैं। हालांकि सडक़ मार्ग से तो हरियाणा और दिल्ली की कनेक्टिविटी शानदार है, मगर रेल मार्ग से आने जाने में लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए हरियाणा सरकार की सिफारिश पर केंद्र सरकार ने इन दोनों प्रदेशों को रेल मार्ग से जोडऩे के लिए रैपिड मैट्रो रेल परियोजना चलाने का निर्णय लिया है।रैपिड रेल की सौगात

इस परियोजना के साकार होते ही दोनों प्रदेशों के बीच रोजगार और बिजनेस के अवसर बढ़ेंगे तथा लोगों को हरियाणा से दिल्ली आने जाने में भी आसानी होगी। बता दें कि हरियाणा से प्रतिदिन हजारों की संख्या में लोग दिल्ली आते हैं, मगर रेल से बेहतर कनेक्टिविटी ना होने की वजह से उन्हें खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है। पंरतु सरकार ने लोगों की इस परेशानी को समझते हुए ही रैपिड रेल की सौगात देने का निर्णय लिया है।

इसी साल शुरू होगी परियोजना

यदि इस परियोजना पर सही तरीके से काम हुआ तो नए साल यानि कि 2022 में निर्माण कार्य शुरू किया जा सकता है। हालांकि इस परियोजना को साकार करने के लिए ड्रोन सर्वे का काम पूरा कर लिया गया है। मिटटी के सैंपल भी लिए जा चुके हैं और रेल चलाने के लिए पिलर बनाने की प्रथम चरण की कार्रवाई को भी पूरा कर लिया गया है। रैपिड टे्रन चलाने के लिए बनाए जाने वाले पिलर जमीन में 30 फुट गहराई तक बनाए जाएंगे। टे्रन कहां कहां से गुजरेगी, उसके लिए सर्वे भी करवा लिया गया है। दिल्ली और हरियाणा के तमाम स्टेशनों को लेकर ड्रोन सर्वे करवाया गया है, जिसके बाद अब डीपीआर स्तर पर काम शुरू कर दिया गया है।

दिल्ली तक 17 स्टेशन होंगे

आपको बता दें कि करनाल में रैपिड ट्रेन के तीन स्टेशन बनाए जाएंगे और दिल्ली तक 17 स्टेशन होंगे। अभी दिल्ली तक पहुंचने के लिए बस या ट्रेन में ढाई घंटे लगते हैं, रैपिड ट्रेन से एक घंटे में पहुंच जाएंगे। दिल्ली-पानीपत रैपिड रेल ट्रांजिट सिस्टम आरआरटीएस को सरकार से कुछ माह पहले ही मंजूरी मिल थी। पहले यह प्रोजेक्ट दिल्ली से पानीपत तक था।बाद में सरकार के प्रयास रंग लाए, जिसके बाद इसे करनाल तक कर दिया गया। इससे पहले पानीपत तक स्टेशन व रूट तय हो गए थे और डीपीआर भी बन गई थी।

ड्रोन सर्वे फाइनल हो चुका है

अब करनाल से पानीपत तक की डीपीआर शेष है, जो जल्द बनेगी। इससे पहले ड्रोन सर्वे फाइनल हो चुका है।करनाल जिले में पानीपत की ओर से आते हुए सबसे पहला स्टेशन घरौंडा, दूसरा ऊंचा समाना और तीसरा बलड़ी बाईपास के पास होगा। तीनों जगह ही हाईवे के साथ हैं। तीनों स्टेशन बनने से ग्रामीणों को भी फायदा होगा। इस प्रोजेकट की खास बात यह है कि ट्रेन का लोगों को ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि छह से 10 मिनट के बीच में ट्रेन स्टेशन पर उपलब्ध होगी। एक बार ट्रेन में 250 लोग सवार हो सकेंगे।

- Advertisement -spot_img

Latest News

दृश्यम2 के बाद इन फिल्मों के सीक्वेल का हो रहा है इंतज़ार, दर्शक भी हैं बेहद उत्साहित

अजय देवगन स्टारर फिल्म दृश्यम 2 को लेकर दर्शक काफी खुश नज़र आ रहे हैं। इस फिल्म के सीक्वेल...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े