50 की उम्र में पिता बने सैफ अली खान, तो बेटी सारा अली खान ने कही बड़ी बात

Must Read

पुलकित कपूर
पुलकित कपूर
I am Pulkit Kapoor The best strategy maker for Herald Hindi

नई दिल्ली: हम जानते हैं कि सैफ अली खान और उनकी पत्नी करीना कपूर खान सोशल मीडिया पर आए दिन सुर्खियां बटोरते ही रहते हैं। करीना भी कभी अपनी फिल्मों को लेकर तो कभी निजी जिंदगी के कारण चर्चा का विषय बन ही जाती हैं। ये बात भी किसी से छिपी नहीं है कि सैफ अली खान चौथी बार पिता बन चुके हैं।

उन्हें दो बच्चे अमृता से तो वहीं दो बच्चे करीना कपूर खान से हैं। लेकिन जब सैफ अली खान चौथी बार पिता बने थे तो सारा अली खान ने भी सोशल मीडिया के सहारे एक बड़ी बात कही थी। ये बात आज भी सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल होती है। वहीं इस दौरान उन्होंने अपने और करीना के बच्चों के बीच के बॉन्ड को भी साफ ज़ाहिर किया था। आइए जानते हैं

सोशल मीडिया पर सारा ने कही थी ये बात

हम जानते हैं कि कुछ एक साल पहले सैफ अली खान चौथी बार पिता बने थे। करीना कपूर खान ने बेटे को जन्म दिया था जिसे जेह नाम दिया गया। वहीं करीना ने भी माँ बनने की जानकारी सोशल मीडिया पर ही साझा की थी। सैफ भी चौथी बार पिता बनकर बेहद खुश थे। जब सैफ चौथी बार पिता बने थे तो उनकी उम्र 50 वर्ष की थी। ऐसे में ये खबर सारा तक पहुंची तो वे भी अपने पिता को बधाई देने से खुद को न रोक पाईं।

सारा ने उस वक्त कहा था कि “अब्बा आप बहुत लकी हैं जो हर 10 साल में पिता बनते जा रहे हैं। पहले 20 वर्ष की उम्र में, फिर 30 वर्ष, फिर 40 वर्ष और अब 50 वर्ष की उम्र में। वहीं इस दौरान सारा ने ये भी कहा था कि वे नन्हें मेहमान के घर में आने से भी बेहद खुश हैं।

पहली ही नज़र में हो गया था छोटे भाई से प्यार

अपने छोटे भाई को लेकर भी सारा मीडिया में कई बार बात कर चुकी हैं। वहीं एक बार सारा ने बातचीत के दौरान ही उस पल को साझा किया था जब उन्होंने अपने छोटे भाई को देखा था। सारा ने बताया कि जब उन्होंने अपने छोटे भाई को देखा तो उसने सारा को प्यारी से स्माइल दी और इसके बाद सारा को भी उससे प्यार हो गया। वहीं हाल ही में जेह के जन्मदिन पर भी सारा ने उन्हें खास अंदाज़ में विश भी किया था।

- Advertisement -spot_img

Latest News

हरियाणा में ट्रैफिक नियम हुए सख्त, नियम तोड़ने पर हमेशा के लिए रद्द होगा लाइसेंस और परमिट

Delhi: हरियाणा में यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराने पर ज़ोर दिया जा रहा है। इसके लिए हरियाणा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े