महज 14 की उम्र में नूतन ने शुरू किया था फिल्मी करियर, खूबसूरती से जीता था लाखों का दिल

Must Read

पुलकित कपूर
पुलकित कपूर
I am Pulkit Kapoor The best strategy maker for Herald Hindi

New Delhi: यदि 60 के दशक की अभिनेत्रियों की बाद की जाए तो इसमें नूतन का नाम भी आता है। नूतन ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम कर दर्शकों का दिल जीता है। वहीं नूतन ने बहुत ही कम उम्र में ही फिल्मों में काम करना शुरू कर दिया। बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट भी नूतन ने कई फिल्मों में काम किया था। आज बेशक नूतन हमारे बीच नहीं हैं लेकिन उनकी फिल्में देखना आज भी दर्शक पसंद करते हैं।

मराठी परिवार में जन्मी थी नूतन

बता दें कि नूतन का जन्म महाराष्ट्र के मुंबई में एक मराठी परिवार में ही हुआ था। नूतन के पिता का नाम कुमारसेन समर्थ था जो एक कवि और निर्देशक थे। वहीं नूतन की माँ का नाम शोभना समर्थ था। नूतन की छोटी बहन का नाम तनुजा था जो बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा काजोल की माँ हैं।

महज 14 की उम्र में शुरू किया था अपना करियर

नूतन शुरुआत से ही इस क्षेत्र में जाना चाहती थी। इसलिए बहुत कम उम्र से ही उन्होंने इस क्षेत्र में काम करना शुरू कर दिया था। नूतन ने सबसे पहले फिल्म “हमारी बेटी” में काम किया ये वो वक्त था जब नूतन सिर्फ 14 वर्ष की थी। बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट नूतन ने कई फिल्मों में अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जीता था।

इसके बाद नूतन को 1951 में नागिन फिल्म में काम करने का मौका मिला था। इस फिल्म से नूतन रातों रात स्टार बन गईं थी। हालांकि इसके बाद नूतन ने विदेश जाने का फैसला किया था। नूतन फिल्म सीमा में भी नजर आई थी जिसमें काम करने के बाद उन्होंने खूब सुर्खियां बटोरी थी। इस फिल्म के बाद से ही उनके हाथ में कई बड़ी फिल्में लगी।

फिल्म देखने के लिए गार्ड से भिड़ गई थी नूतन

खबरों के मुताबिक दरअसल जब नागिन फिल्म रिलीज़ हुई तो नूतन उसे थियेटर पर देखना चाहती थी। ऐसे में उनके साथ शम्मी कपूर भी थे। उनकी उम्र उस वक्त सिर्फ 15 साल की थी। लेकिन उन्होंने सोचा कि जब वे थियेटर जाएंगी तो उनका अच्छे से स्वागत होगा। लेकिन अंडर ऐज होने के कारण गार्ड ने उन्हें एंट्री देने से मना कर दिया क्यूंकि फिल्म में कुछ डरावने सीन भी थे। ऐसे में नूतन गार्ड से भी भिड़ गई थी।

दुनिया को कह चुकी हैं अलविदा

नूतन ने इसके बाद सौदागर, कस्तूरी, कर्मा, मेरी जंग जैसी कई फिल्मों में काम किया। नूतन को फिल्मफेयर अवार्ड से भी सम्मानित किया गया था। 1959 में नूतन ने लेफ्टिनेंट कमांडर रजनीश बेहल से शादी की थी। लेकिन 1991 में नूतन ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।

- Advertisement -spot_img

Latest News

हरियाणा में ट्रैफिक नियम हुए सख्त, नियम तोड़ने पर हमेशा के लिए रद्द होगा लाइसेंस और परमिट

Delhi: हरियाणा में यातायात नियमों का सख्ती से पालन कराने पर ज़ोर दिया जा रहा है। इसके लिए हरियाणा...
- Advertisement -spot_img

और भी पढ़े